Posts

Showing posts from November, 2013

एहसास

Image
जब भी एहसास इतने गहरे हुए  कि ज़ुबान बयाँ न कर सके  मुझे मेरा मौन अच्छा लगा लहरों की आवाज़ और पंछी की चहक अच्छी लगी और लगा की खुद के होने के अहम से कहीं अच्छा है, खुद के न होने  का एहसास